१ बैशाख २०८१, शनिबार

रविवार को शपथग्रहण योगी करेंगे आदित्यनाथ

लखनऊ , मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ रविवार को भारी सुरक्षा व्यवस्था की बीच रविवार को शपथग्रहण करेंगे। वह बुलेट प्रूफ कार से समारोह स्थल पहुंचेंगे।
मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ का नाम तय होने के बाद भाजपा सरकार का शपथ ग्रहण समारोह रविवार को होगा। इसके लिए भारी सुरक्षा व्यवस्था के लिए सात एसपी और द्दद्ध एएसपी समेत घद्ध कंपनी फोर्स समेत पुलिस का जबरदस्त अमला तैनात रहेगा। नए मुख्यमंत्री मंत्रिमंडल के सदस्यों के साथ कांशीराम स्मृति उपवन में अपराह्न द्द।ज्ञछ बजे शपथ लेंगे। उनकी सुरक्षा योजना तय है। मुख्यमंत्री बुलेट प्रूफ कार में आएंगे। मंत्रियों के लिए स्कोर्ट वाहन, शैडो और गनर के लिए डीजीपी को हिदायत दी गयी है।

अतिथियों के लिए श्रेणीवार दीर्घा बनाई गई है। हर निमंत्रण पत्र में शपथ ग्रहण स्थल के किस दीर्घा में स्थान ग्रहण किया जाना लिखा है। मुख्यमंत्री, मंत्री के लिए अलग दीर्घा और उनके परिवार और रिश्तेदारों के बैठने के लिए अलग श्रेणी की व्यवस्था होगी। शासन स्तर पर इस आयोजन को भव्य रूप देने के लिए तैयारी पूरी हो गई है। शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कई केंद्रीय मंत्री, दर्जन भर राज्यों के मुख्यमंत्री, उद्योगपतियों समेत अति विशिष्ट अतिथियों के आने के संकेत मिले हैं। राजभवन की ओर से मानक सूची के अनुसार विशिष्ट अतिथियों को निमंत्रण पत्र निर्गत होंगे। मनोनीत मुख्यमंत्री एवं मंत्रियों के रिश्तेदारों, मित्रों एवं अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं के लिए भी आमंत्रण पत्र जाएंगे।

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते एसपीजी की टीम लखनऊ में है। एडीजी दलजीत सिंह चौधरी के मुताबिक सुरक्षा के लिए सात पुलिस अधीक्षक, द्दद्ध अपर पुलिस अधीक्षक, छण् उपाधीक्षक, छछण् दारोगा(इंस्पेक्टर, घघठण् सिपाही, ज्ञड कंपनी केंद्रीय अद्र्धसैनिक बल, ज्ञट कंपनी पीएसी और छण्ण् यातायात पुलिसकर्मी लगाए गये हैं। शपथ ग्रहण समारोह स्थल पर भव्य मंच और पंडाल लगेगा। डीएम और एसएसपी को सोफे, कुर्सियों, माइक, पंखों के अलावा बैरीकेडिंग, वाटर प्रूफ शामियाने की व्यवस्था के निर्देश दिए गये हैं। समारोह स्थल पर वीवीआइपी श्रेणी के लिए निर्धारित दीर्घा के अलावा ठण् हजार कुर्सियों की व्यवस्था के निर्देश दिए गये हैं। समारोह स्थल पर कई प्रवेश द्वार बनाये जाएंगे। शपथ ग्रहण समारोह स्थल पर राष्ट्रीय गान होगा। इसके लिए पीएसी बैंड को अधिकृत किया गया है। जिम्मेदारी एसएसपी को दी गयी है।

डीजीपी जावीद अहमद, एडीजी सुरक्षा भवेश कुमार सिंह, एडीजी कानून(व्यवस्था दलजीत सिंह चौधरी और आइजी जोन लखनऊ , सतीश गणेश आदि ने सुरक्षा और यातायात की तैयारियां देखीं। इसके बाद मुख्य सचिव राहुल भटनागर, प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पंडा और डीजीपी समेत कई वरिष्ठ अधिकारियों ने मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण स्थल और सुरक्षा इंतजाम को अंतिम रूप दिया । आयोजन में बड़ी संख्या में लोगों के जुटने के कारण स्मृति उपवन का चयन किया गया है। पुलिस प्रवक्ता, आइजी एसटीएफ रामकुमार ने बताया कि अभी प्रधानमंत्री का मिनट टू मिनट कार्यक्रम नहीं आया है लेकिन, उनका आना तय है। एडीजी सुरक्षा और आइजी जोन को कार्यक्रम की सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गयी है। हाल में आइएस खुरासान माड्यूल की गतिविधि को देखते हुए व्यापक तैयारी की गयी है। स्थल निरीक्षण लगातार होगा। वीवीआइ दीर्घा में जाने वाले हर व्यक्ति पर नजर रहेगी। खासतौर पर पूरे समारोह में संदिग्धों पर नजर रखी जाएगी।
-www.dainikjagran.com

धेरै कमेन्ट गरिएका